Rajasthan Patta Registration 2021 – E Panjiyan, IGRS Rajasthan, Stamp


राजस्थान कि राज्य सरकार के द्वारा भूमिहीन लोगों के लिए Rajasthan patta registration 2021 योजना को शुरू किया गया है। यहां आपको बता दें कि राजस्थान की तहसील क्षेत्रों की गांवों में रहने वाली आबादी भूमि राजस्थान की सरकार के खाते में दर्ज कर दी गई थी और इसी वजह से ग्राम पंचायत के बहुत से लोग भूमि पट्टा प्राप्त नहीं कर सके थे। ऐसे में अब आपको बता दें कि राजस्थान के कलेक्टर द्वारा सरकारी भूमि को आबादी भूमि में मिलाने से एक बार फिर से पट्टा देने का अधिकार राज्य की ग्राम पंचायतों को दे दिया है। अगर आप भी राजस्थान के रहने वाले हैं तो हमारे आज के इस आर्टिकल को सारा पढ़ें और जानें पूरी प्रक्रिया के बारे में।  

Rajasthan Patta Registration 2021 

Scheme NameRajasthan Patta registration 2021 
Launched byGovernment of Rajasthan 
DepartmentRural development and Panchayati Raj department of Rajasthan 
BeneficiariesPoor people of Rajasthan
Scheme benefitsPoor people will get plots to make their house
Objective Distributing leases to poor families 
Official portal www.rajpanchayat.rajasthan.gov.in

Document to Apply For  Rajasthan Patta Registration 

  • Aadhar card 
  • Permanent address proof of applicant 
  • Witness certificate of two people
  • Family member’s details
  • Mobile number 
  • Applicant passport size photograph with family members

Eligibility Criteria For Rajasthan Patta 2021

Eligibility criteria for Rajasthan Bhumi Patta Registration 2021- 

  • Applicant must be permanent resident of Rajasthan
  • Applicant, who has no any permanent income source, can apply 
  • People does not have any house or any land
  • Shepherd and strollers can also apply for this scheme

House Patta online Rajasthan Registration Process 

राजस्थान के रहने वाले जो निवासी इस स्कीम का लाभ लेना चाहते हैं और अपना रजिस्ट्रेशन करवाना चाहते हैं उसके लिए निम्नलिखित प्रक्रिया है- 

  • सबसे पहले आवेदक को राजस्थान की राज्य पंचायत के ऑफिशियल वेब पेज पर जाना होगा जो कि www.rajpanchayat.rajasthan.gov.in है। 
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको bhumi Patta application form Rajasthan का एक ऑप्शन दिखाई देगा। इस पर क्लिक कर दें।
  • जैसे ही आप क्लिक करेंगे वैसे ही आपके सामने एप्लीकेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा। 
  • यह एप्लीकेशन पीडीएफ फॉर्म के रूप में होगा जिसको आप डाउनलोड कर लें।
  • पीडीएफ डाउनलोड करने के बाद इसका प्रिंट निकलवा लें और फिर बहुत ध्यानपूर्वक फार्म में सारी जानकारी भर दें जैसे कि आपका नाम, पिताजी का नाम, मां का नाम, बच्चों की जानकारी, आधार कार्ड की डिटेल अपनी और अपने परिवार की, गांव, डिस्ट्रिक्ट इत्यादि।
  • इस तरह से अगले पेज पर आपको मकान नंबर, भूमि खसरा नंबर आदि भरना है।
  • एप्लीकेशन फॉर्म के सबसे नीचे अपने हस्ताक्षर कर दें। 
  • जो भी डाक्यूमेंट्स आप से मांगे गए हैं उन सब को इसके साथ अटैच कर दें। 
  • जब सारा फार्म कंप्लीट हो जाए तो उसके बाद उसे ग्राम पंचायत में जाकर जमा कर दें। 
  • इससे संबंधित जानकारी आपको एसएमएस या फिर फोन करके दे दी जाएगी। 
rajasthan patta registration website

Rules of land lease registration 

अब यहां आपको बता दें कि राजस्थान की सरकार ने भूमि पट्टा आवंटन के अंतर्गत राज्य के गरीब लोगों को लाभ देने के लिए कुछ नियम भी बनाए हैं और अगर आप इस स्कीम का लाभ लेना चाहते हैं तो आपको इन नियमों के बारे में भी जानकारी होनी आवश्यक है जिनके बारे में हम निम्नलिखित बता रहे हैं- 

First Rule

बता दें कि राजस्थान की भूमि पट्टा योजना के लिए पहला पंचायती राज नियम यह है कि 1996 के अंतर्गत 157 रूल के तहत साल 1996 तक जितनी भी आबादी जमीन पर मकान बने हुए हैं उन सभी पर भूमियों पर जितने भी मकान निर्मित हैं उन सभी पर नियमन और पट्टा जारी करने का रूल है। 

Second Rule

राजस्थान में गांवों में जो परिवार रहते हैं उनमें से बहुत सारे ऐसे भी हैं जो बेघर हैं यानी कि उनके पास ना तो अपनी भूमि है और ना ही रहने के लिए स्वयं का मकान है। इसी वजह से अगर उन लोगों ने साल 2003 तक किसी जगह पर कच्चा मकान या फिर झोपड़ी अपने रहने के लिए बना ली है तो रूल 157-2 के अंतर्गत ऐसे लोगों को लगभग 300 वर्ग गज की जमीन बिल्कुल फ्री में दी जाएगी। इस तरह से उस परिवार की जो भी महिला मुखिया होगी उसके नाम से पट्टा जारी किया जाएगा और फिर बाद में उसी महिला के नाम उस जमीन की रजिस्ट्री कर दी जाएगी। 

Rule Third

रूल 158 के तहत राजस्थान पंचायती राज अधिनियम 1996 के अंतर्गत जो भी परिवार राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में रहते हैं और आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों से संबंध रखते हैं तो ऐसे में उन लोगों को पंचायत 300 वर्ग गज की जमीन बहुत ही रियायती दरों पर देगी जैसे कि 2 रूपए से लेकर 10 रूपए प्रति वर्ग मीटर तक।

Fourth Rule

राज्य के पंचायती अधिनियम 158-2 के अंतर्गत जो लोग गरीबी रेखा से नीचे की श्रेणी से संबंध रखते हैं ऐसे परिवारों को सरकार भूमि बिल्कुल निशुल्क बांटेगी। यहां बता दें कि यह अधिकार पहले राज्य सरकार के हाथों में था लेकिन अब यह अधिकार पंचायतों को सौंप दिया गया है। 

Igrs Rajasthan 

Igrs  यानी कि intelligence gathering for retrieval system राजस्थान में डाक टिकटों के रजिस्ट्रेशन का एक ऐसा डिपार्टमेंट है जो राजस्थान में प्रॉपर्टी के अलावा दूसरे प्रकार के लेनदेन का रजिस्ट्रेशन करवाने का कार्य करते हैं। यहां बता दें कि राज्य के जो निवासी igrs Rajasthan वेबसाइट की सुविधाओं का लाभ लेने के लिए उनको इस वेबसाइट पर लॉगइन करना होगा जिसके बाद इस पोर्टल का प्रयोग करके लाभ ले सकते हैं। 

e Panjiyan Rajasthan

यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि अगर आप राजस्थान राज्य के नागरिक हैं और राजस्थान के पंजीकरण और टिकट डिपार्टमेंट की सारी सुविधाओं का लाभ लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपको www.panjiyan.nic.in वेबसाइट पर जाना होगा। यहां आपको बता दें कि इस पोर्टल पर आप अगर अपनी प्रॉपर्टी की कीमत जानना चाहते हैं तो वह भी बहुत आसानी के साथ जान सकते हैं। निम्नलिखित हम आपको जानकारी दे रहे हैं कि आप किस प्रकार से ई पंजीयन वेबसाइट से अपनी संपत्ति के सही मूल्य के बारे में जानकारी हासिल कर सकते हैं – 

  • सबसे पहले ई पंजीयन राजस्थान की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं। 
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको बाईं ओर संपत्ति मूल्यांकन का एक ऑप्शन दिखाई देगा। इस पर आपको क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस पर क्लिक करेंगे वैसे ही आपको निम्न पृष्ठ के ऊपर निर्देशित कर दिया जाएगा। 
  • यहां आपको बता दें कि अगर आप igrs वेबसाइट का इस्तेमाल कर रहे हैं तो फिर आपको यह ऑप्शन DLC Rates ऑप्शन के अंतर्गत मिलेगा। 
  • यहां आपको अपना फोन नंबर, वेरीफिकेशन कोड, चालान नंबर के अलावा ओटीपी दर्ज करना होगा। 
  • इस प्रकार ई पंजीयन राजस्थान वेबसाइट के माध्यम से अपनी संपत्ति का विवरण देख सकते हैं। 
  • साथ ही साथ Rajasthan property records के बारे में जानकारी भी आप इस वेबसाइट के माध्यम से हासिल कर सकते हैं। 

Stamp duty and registration charges in Rajasthan 2020 

यहां आपको बता दें कि स्टैंप ड्यूटी और रजिस्ट्रेशन शुल्क उस समय लागू होता है जब आप कोई नया घर खरीदते हैं। अगर आपने राजस्थान में घर लिया है तो इसके लिए Stamp duty and registration charges in Rajasthan 2020 की जानकारी इस प्रकार से है- 

For men- राजस्थान पुरुषों को प्रॉपर्टी की खरीद पर 6 परसेंट स्टैंप ड्यूटी लगती है। लेकिन महिलाओं के लिए यह कम होती है। इसीलिए अधिकतर पुरुष अपनी पत्नियों के नाम पर अपनी प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री करवाना पसंद करते हैं। 

For Women- जैसा कि हमने ऊपर बताया कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं को कम स्टैंप ड्यूटी देनी पड़ती है जो कि 5 परसेंट तक हो सकती है। यहां यह भी बता दें कि Registry charges in Rajasthan June 2020 में चार्जेस बढ़ा दिए गए हैं क्योंकि पिछले साल कोरोना जैसी महामारी की वजह से सभी व्यापार धंधो पर काफी बुरा प्रभाव पड़ा है। ऐसे में सरकार फंड इकट्ठा करके लोगों की सहायता करना चाहती है जिसकी वजह से मई 2020 से स्टैंप ड्यूटी के चार्ज बढ़ा दिए गए हैं। 

IGRS Rajasthan circular download 

अगर आप igrs Rajasthan circular download करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको निम्नलिखित प्रक्रिया अपनानी होगी जो कि इस प्रकार से है- 

  • सबसे पहले igrs Rajasthan की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा जोकि https://igrs.rajasthan.gov.in है। 
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको E- Citizen का एक विकल्प दिखाई देगा जिसके नीचे आपको circular का एक ऑप्शन दिखेगा। 
  • दिखाई दिए जाने वाले विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • जैसे ही आप इस ऑप्शन पर क्लिक करेंगे वैसे ही आपके सामने सर्कुलर खुल जाएगा। 
  • यहां पर इस सर्कुलर में से आपको जो भी जानकारी जाननी है उसे आप डाउनलोड कर सकते हैं। 
  • बता दे कि जो भी आप डाउनलोड करेंगे वह पीडीएफ के रूप में आपको मिल जाएगी। 
  • यहां यह भी बता दें कि यह सर्कुलर हर वर्ष का अलग-अलग मौजूद होगा इसलिए आपको जिस साल का डाउनलोड करना हो उसे आप डाउनलोड कर सकते हैं। 
IGRS Rajasthan Portal

Rajasthan Patta FAQs

राजस्थान में लांच की गई पट्टा स्कीम का मुख्य उद्देश्य क्या है?

इस स्कीम का मुख्य उद्देश्य राजस्थान के रहने वाले उन सभी लोगों को फ्री में भूमि देने की सुविधा देना है जिनके पास ना कोई जमीन है और ना ही रहने के लिए कोई घर है। इस तरह से यह योजना गरीब लोगों के लिए काफी फायदेमंद साबित होगी।

पट्टा डिस्ट्रीब्यूशन स्कीम के अंतर्गत कौन-कौन से लोग योग्य हैं?

इस योजना के अंतर्गत राज्य के जितने भी लोग आर्थिक रूप से कमजोर हैं वह सभी पात्रता रखते हैं इसलिए इसका लाभ लेने के लिए वह अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

क्या भारत का कोई भी नागरिक राजस्थान सरकार के द्वारा शुरू की गई पट्टा रजिस्ट्रेशन योजना का लाभ ले सकता है?

जी नहीं क्योंकि राजस्थान की राज्य सरकार ने यह योजना केवल राजस्थान के नागरिकों के लिए ही शुरू की है इसलिए भारत का हर नागरिक इस स्कीम का लाभ नहीं ले सकता।

राजस्थान पट्टा के लिए एप्लीकेशन फॉर्म कहां से हासिल करें?

जो भी नागरिक इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं उन्हें राजस्थान सरकार की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा जहां से वह फार्म डाउनलोड कर सकते हैं www.rajpanchayat.rajasthan.gov.in .

Note : Please do not post your personal details in comment. This website is an informative website and you must always contact official website or official authorities for support. Do not share your personal details here.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *