मेरा पानी मेरी विरासत योजना रजिस्ट्रेशन – हरियाणा में किसानों को Rs. 7000


mera pani meri fasal yojana haryana government farmers

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी ने मेरा पानी मेरी विरासत योजना शुरू की है। इस योजना में हिस्सेदार किसानो को सात हज़ार रूपये प्रति एकड़ के हिसाब से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। यह योजना हरियाणा के किसानों के लिए है। सरकार चाहती है की किसान खेती में विविधीकरण अपनाये और धान छोड़कर मकई और दाल की खेती करें। ऐसा करने वाले किसानों को 7000 रूपये मिलेंगे। साथ ही ड्रिप सिंचाई करने वाले किसानों को हरियाणा सरकार द्वारा 85% की सब्सिडी भी दी जाएगी।

जानिये मेरा पानी मेरी विरासत योजना का रजिस्ट्रेशन कैसे होगा और इसके क्या लाभ हैं।

edisha

Mera Pani Meri Virasat Scheme Registration Process

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी ने ये ऐलान किया है की जो भी किसान मेरा पानी मेरी विरासत योजना का पंजीकरण करना चाहते हैं , वो आधिकारिक वेबसाइट या पोर्टल पर जाकर इसका रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरें। इसके लिए सरकार एक नया मेरा पानी मेरी फसल पोर्टल बनाएगी और इसकी जानकारी आपको यहाँ दी जाएगी।

किसान अगर https://fasalhry.in/farmerRegistrations/farmerRegistrations पर पंजीकरण कर चूका है तो उसके पास परिवार आईडी होगी। हरियाणा परिवार आईडी की मदद से मेरा पानी मेरी विरासत रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरा जा सकेगा।

DBT Agriculture

Mera Pani Meri Virasat Yojana – Documents Required

जानिए इस योजना का आवेदन पत्र भरने के लिए कौन कौन से डॉक्यूमेंट या दस्तावेज देने होंगे।

  • किसान आईडी
  • आधार कार्ड और पर्सनल डिटेल्स
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक अकाउंट नंबर और पासबुक का फोटो कॉपी
  • बैंक का IFSC कोड
  • PM KISAN योजना की आईडी (अनिवार्य नहीं)
  • खेती के जमीन की जानकारी
  • फसल की जानकारी
  • ड्रिप सिंचाई में हिस्सेदारी की जानकारी (सब्सिडी के लिए)

इन सभी दस्तावेज और जानकारी को मेरा पानी मेरी विरासत योजना एप्लीकेशन फॉर्म के साथ जमा करना होगा। यदि आपने हरियाणा किसान योजना रजिस्ट्रेशन किया है तो यह योजना आपके लिए आसानी से पंजीकरण हो जाएगी।

Mera Pani Meri Virasat Yojana – Eligibility Conditons

मेरा पानी मेरी विरासत योजना लाभार्थी होने के लिए कुछ नियम और शर्त हैं। इन नियम और शर्त के आधार पर आपने नाम लाभार्थी लिस्ट में जोड़ा जायेगा।

  • आपको धन की खेती नहीं करनी होगी
  • किसान को खेत में विविधीकरण के तरीके से खेती करनी होगी
  • ड्रिप सिंचाई का तरीका इस्तेमाल करना होगा
  • किसान हरियाणा के निवासी होने चाहिए
  • आधार कार्ड और बैंक अकाउंट लिंक होना चाहिए
  • सब्सिडी के लिए पंजीकरण होना चाहिए
  • दाल और मक्के की खेती करनी होगी

ऊपर दिए गए सभी नियम और शर्त पुरे होने पर किसान को मेरा पानी मेरी विरासत योजना के लिए पात्र माना जायेगा। इसके बाद वो ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

Mera Pani Meri Virasat Yojana – Application Form

हरियाणा मेरा पानी मेरी विरासत योजना का आवेदन पत्र अभी सरकार द्वारा जारी नहीं किया गया है। ऐसी स्थिति में आप इसका आवेदन तब कर पाएंगे जब ऑनलाइन पोर्टल तैयार हो जायेगा।

जल्द ही हरियाणा सरकार द्वारा मेरा पानी मेरी विरासत योजना का आवेदन पत्र ऑनलाइन उपलब्ध करा दिया जायेगा। इसके लिए यहाँ दिए गए जानकारी को चेक करते रहे।

आवेदन पत्र पीडीएफ में डाउनलोड कर सकेंगे। साथ ही ऑनलाइन लॉगिन करके भी आप रजिस्ट्रेशन किया जा सकेगा।

About Mera Pani Meri Fasal Scheme

योजना का नाममेरा पानी मेरी विरासत योजना
योजना का प्रकार कृषि योजना
राज्यहरियाणा
किसने लांच कियामनोहर लाल खट्टर (मुख्यमंत्री, हरियाणा)
लांच की तिथि07 May 2020
मेरा पानी मेरी विरासत योजना के बारे में

pm kisan panjikaran

Note : Please do not post your personal details in comment. This website is an informative website and you must always contact official website or official authorities for support. Do not share your personal details here.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *